असम में पुलिस ने की फायरिंग चार लोगों की मौत कांग्रेस कार्यकर्ता समेत 190 लोग गिरफ्तार

असम में पुलिस ने की फायरिंग  नागरिकता संशोधन कानून का पूरे देश में विरोध जताया जा रहा है विपक्षी पार्टियां तो नागरिकता संशोधन कानून के लिए सड़कों पर उतर चुकी है कार्यकर्ता सड़कों पर टायर जलाकर तथा पथराव करके विरोध प्रदर्शन के लिए आगे आए हुए हैं

असम में पुलिस ने की फायरिंग चार लोगों की मौत कांग्रेस कार्यकर्ता समेत 190 लोग गिरफ्तार

  •  नागरिकता संशोधन बिल जब से लाया गया तब से लेकर आज तक लगातार विरोध प्रदर्शन बढ़ता जा रहा है
  • पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी भी आज विरोध प्रदर्शन के लिए सड़कों पर उतरी है
  • विपक्ष का कहना है कि नागरिकता संशोधन बिल के तहत मुस्लिमों के साथ भेदभाव किया जाएगा
  • और भारत को मुस्लिम मुक्त बनाया जायेगा
  • इसीलिए विपक्षी पार्टियों के नेता जनता में भड़काऊ पैदा करके लोगों को अपने साथ विरोध प्रदर्शन के लिए जोड़ रहे हैं
  • इधर पुलिस अपनी कार्रवाई कर रही है
  • पुलिस की कार्रवाई के दौरान असम में पुलिस ने की फायरिंग में 4 लोगों की मौत हो गई
  • तथा कांग्रेस कार्यकर्ताओं समेत 190 लोगों को असम पुलिस ने अभी तक गिरफ्तार किया है
  • नागरिकता संशोधन कानून पर विपक्षी पार्टियों द्वारा आज राष्ट्रपति के साथ मीटिंग की जाएगी
  • राष्ट्रपति की मुलाकात करने पर शिवसेना यह संजय राउत का कहना है
  • कि उन्हें इनकी जानकारी नहीं मिली है
  • और शिवसेना इस प्रतिनिधिमंडल में हिस्सा नहीं लेंगे संजय रावत का कहना है
  • कि जब विपक्षी पार्टियां इस मामले पर राष्ट्रपति के साथ बातचीत करने वाली है
  • तो शिवसेना को भी उन्हें एक संदेश देना चाहिए था

READ ALSO ; उन्नाव रेप कांड कुलदीप सिंह सेंगर को आज हो सकती है सजा

असम में सामान्य हो रहे हैं हालात

असम में हालात लगभग सामान्य हो रहे हैं रात 8:00 बजे तक कर्फ्यू भी कई जगह से हटा दिया जाएगा इससे पहले केंद्र द्वारा असम में भेजे गए संदेश में जीपी सिंह सोमवार को ट्वीट करके जानकारी दी है कि असम में वापस से हालात सामान्य हो गए हैं और पूरे असम से धारा 144 हटा दी जाएगी तथा साथ ही शाम तक इंटरनेट सुविधा भी उपलब्ध करवा दी जाएगी