कर्ज में डूबे अनिल अंबानी की और बढ़ीं मुश्किलें

0
कर्ज में डूबे अनिल अंबानी
अनिल अंबानी

कर्ज में डूबे अनिल अंबानी:- पिता धीरूभाई अंबानी की मृत्यु के बाद अलग हो गए थे मुकेश अंबानी और अनिल अंबानी, उस समय अनिल अंबानी आज के देश के सबसे अमीर शख्स मुकेश अंबानी से भी ज्यादा अमीर थे और उनकी गिनती दुनिया के सबसे अमीरों मैं की जाने लगी थी, लेकिन जैसे-जैसे धीरे-धीरे समय बीतता गया अनिल अंबानी की संपत्ति दिन प्रतिदिन कम होती गई और बड़े भाई मुकेश अंबानी जो कि उस समय आज के ढेर सारे कर्ज में डूबे अनिल अंबानी के जितने अमीर नहीं थे उनकी संपत्ति दिन दूनी रात चौगुनी तरक्की कर दी गई और आज अनिल अंबानी के ऐसे हाल हो गए हैं कि हजारों करोड़ रुपए के कर्जे तले दबे हुए हैं।

कर्ज में डूबे अनिल अंबानी की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है, उनकी कंपनी रिलायंस कैपिटल का कर्ज दिसंबर 2020 के अंत तक बढ़कर 20, 379.71 करोड रुपए तक पहुंच चुका है, 31 अगस्त 2020 में कंपनी पर 19805.7 करोड़ रुपए का कर्ज था| आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस कैपिटल ने गुरुवार को एक नियम किए जानकारी में बताया था कि दिसंबर 2020 के आखिर में उसका कुल कर्ज 20379.71 करोड़ रुपए पहुंच गया था, जिसमें सभी प्रकार के ब्याज भी शामिल हैं|

कंपनी से मिली जानकारी के मुताबिक एचडीएफसी बैंक का 523.98 करोड़ रुपए और एक्सिस बैंक के 100.63 करोड़ों रुपया बांकी है, जो की प्रिंसिपल अमाउंट है, अनिल अंबानी किस कंपनी के ऊपर बैंकों और फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशंस का कुल 700.76 करोड़ों रुपए बाकी हैं, जिसमे मूलधन और ब्याज भी सम्मिलित किया गया है|

अनिल अंबानी की एक और कम्पनी कर्ज में डूबी

अब यह पता लगाना बहुत मुश्किल है कि अनिल अंबानी की और कितनी कंपनियां कितने कर्ज में डूबी हैं, फिलहाल जो आंकड़े सामने निकल कर आते हैं, हम आप को पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं, जानकारी के लिए आपको बता दें कि अंबानी की अगुवाई वाली रिलायंस ग्रुप की एक और कंपनी रिलायंस होम फाइनेंस जिसका नाम है उसके ऊपर अभी भी करीब 13000 करोड रुपए का कर्ज है, जो 31 दिसंबर 2020 तक 12943.18 करोड़ रुपए तक था, बता दें कि इस राशि में मूलधन और ब्याज को भी शामिल किया गया है|

वहीं बात अगर अनिल अंबानी के बड़े भाई मुकेश अंबानी की की जाए तो बता दें कि मुकेश अंबानी भाई सर अब डॉलर के कर्ज से मुक्त हो चुके हैं, वही अनिल अंबानी कर्ज के भारी भरकम बोझ तले दबने से दिवालिया होने की कगार पर दिखाई दे रहे हैं और अब वह अपनी जिंदगी को अध्यात्म के रास्ते पर ले जाने की सोच रहे हैं, अनिल अंबानी अपनी बहुत सारी कंपनियों को बेंच चुके हैं। इसके बावजूद भी उनके ऊपर चढ़ा कर्ज कम होने का नाम नहीं ले रहा है|

ये भी पढें:-अचानक महाराष्ट्र के अस्पताल में लगी आग, 10 नवजात शिशु की मौत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here