सीएए प्रोटेस्ट क्या है जिसके लिए पूरे देश में हो रहा है धरना प्रदर्शन

CAA protest नागरिकता संशोधन बिल को गृह मंत्री अमित शाह द्वारा राज्यसभा और लोकसभा दोनों जगह से पास करवा लिया गया है और उस पर राष्ट्रपति की मुहर भी लग गई है जिसको लेकर पूरे देश में हो रहा है विरोध प्रदर्शन

जानिए क्या होता है नागरिकता संशोधन कानून (CAA) ; CAA protest

  • नागरिकता संशोधन बिल पास होने के बाद पूरे देश CAA protest चल रहा है
  • जबकि इससे पूरे देशवासियों को कोई भी नुकसान पहुंचने वाला नहीं है
  • नागरिकता संशोधन कानून जो कि अभी हाल ही में गृहमंत्री द्वारा राज्यसभा और लोकसभा से पास करवाया गया है
  • राष्ट्रपति की और भी लग गई है फिर भी इसका विरोध पूरे देश में चल रहा है
  • नागरिकता संशोधन कानून जोकि जो कि; दूसरे देश के अल्पसंख्यकों को भारत में नागरिकता देने का रास्ता साफ करता है
  • जैसे बांग्लादेश अफगानिस्तान और पाकिस्तान जैसे देशों में जो वहां के अल्पसंख्यक हैं
  • जैसे हिंदू सिख पारसी बौद्ध धर्म के लोग भारत में इसके तहत नागरिकता ले सकते हैं
  • इन्हें यह नागरिकता तब मिलेगी जब वह 14 दिसंबर 2014 से भारत में रह रहे हो या गलती से चले आए
  •  उसको भारत की नागरिकता भारत सरकार दे देगी

read also ; निर्भया सामूहिक गैंगरेप के दोषी पवन ने लगाई याचिका:- बोला; घटना के समय था नाबालिक

जानिए क्या होता है राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC)

  • हाल ही में असम में एनआरसी बिल को लागू किया गया है
  • जिसके बाद से पूरे देश में इसके लिए प्रदर्शन देखने को मिल रहा है
  • एनआरसी भारत के नागरिकों का एक ऐसा रजिस्टर है
  • जिसमें भारत के सभी नागरिकों का नाम है
  • और भारत में घुसे घुसपैठियों को भारत से बाहर का रास्ता दिखाने का नियम है
  • सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद एनआरसी का नियम जल्द ही असम में पूरा हुआ
  • पर गृहमंत्री अमित शाह ने कहा हम एनआरसी नियम को पूरे देश में लागू करेंगे
  • जिससे भारत में घुसे घुसपैठियों को बाहर निकालने में मदद मिलेगी
  • एनआरसी नियम के मुताबिक भारत का नागरिक सहने योग्य वही है
  • जो 1971 से पहले भारत में रह रहा हूं क्योंकि 1971 में ही पाकिस्तान और बांग्लादेश बना था
  • हाल ही में असम में एनआरसी बांग्लादेश से घुसे घुसपैठियों को बाहर निकालने के लिए लगाया गया था
  • जोकि गृह मंत्री के आदेश के बाद अब पूरे देश में लागू होगा
  • नागरिकता संशोधन बिल और एनआरसी के लागू होने के बाद असम त्रिपुरा से लेकर पूरे देश में इसका विरोध चल रहा है