CAB पड़ा भाजपा को महंगा : नागरिकता संशोधन बिल भारतीय जनता पार्टी के लिए महंगा साबित हुआ

नागरिकता संशोधन विधेयक को लेकर देशभर में हंगामा चल रहा है। इसी बीच असम में इसका बहुत ही ज्यादा विरोध किया जा रहा है। इस कारण भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया। इस कारण CAB पड़ा भाजपा को महंगा ।

CAB पड़ा भाजपा को महंगा : नागरिकता संशोधन बिल भारतीय जनता पार्टी के लिए महंगा साबित हुआ

नागरिकता संशोधन बिल को भारतीय जनता पार्टी ने दोनों ही सदनों से पास करवा लिया और कामयाबी हासिल कर ली। ये बिल लोकसभा में सोमवार को पास हो गया था लेकिन राज्यसभा में बहुमत न होने की वजह से पार्टी के सामने बड़ी चुनौती थी। बीजेपी ने इस चुनौती पर पार पाते हुए बड़ी कामयाबी हासिल कर ली और बिल पास करवा लिया। हालांकि बिल पास होते ही भाजपा को करारा झटका लग गया है। पार्टी के लिए बुरी खबर आ गई है।

Read also :- 50 important health tips शरीर के लिए बहुत जरूरी

 लोकसभा में 311 तो राज्यसभा में 125 सांसदों का समर्थन

नागरिकता संशोधन बिल के पास होने के आंकड़े पर गौर करें तो लोकसभा में इस बिल के समर्थन में 311 सांसद थे। वहीं 80 सांसदों ने इस बिल का विरोध किया था। वहां से पास होने के बाद जब ये बिल राज्यसभा में आया तो यहां भी 125 सांसदों ने इस बिल का समर्थन कर दिया जबकि 105 सांसद ही इसके विरोध में आए। इसके बाद ये बिल राज्यसभा से भी पास हो गया। शिवसेना की बात करें तो पार्टी ने बड़ा दांव चलते हुए सदन से वॉक आउट कर दिया। इसके बाद भाजपा को मदद मिल गई ।

Read also :-राज्यसभा में पास हुआ CAB:  पक्ष में 117 वोट वहीं विपक्ष में मात्र 92 वोट पड़े

जानें भाजपा के लिए आई कौन सी बुरी खबर

  • नागरिकता संशोधन बिल पास करवाना भाजपा के लिए महंगा पड़ गया है।
  • पार्टी के लिए बुरी खबर आ गई है।
  • भारतीय जनता पार्टी के असम के बड़े नेता जतिन बोरा ने बिल के विरोध में पार्टी से इस्तीफा दे दिया है।
  • आठ दिसंबर को अभिनेता और डायरेक्टर जतिन बोरा को इस बिल का विरोध कर रहे
  • लोगों ने तेजपुर में बुरा भला भी कहा था।
  • गुरुवार को बोरा ने भाजपा से इस्तीफा दे दिया।
  • इससे पहले मशहूर अभिनेता रवि सरमा ने भी बिल के विरोध में पार्टी छोड़ दी थी।
  • इसी कारण नागरिकता संशोधन बिल भाजपा के लिए बहुत ही घातक साबित हुआ
  • भाजपा ने नागरिकता संशोधन बिल के लिए अपने एक उम्मीदवार को होना पड़ा.
  • CAB के खिलाफ हो रहे असम में विरोध से भाजपा को और भी हो सकती हैं।