CM पद से इस्तीपा देने के बाद देवेंद्र फडणवीस को नागपुर पुलिस ने भेजा नोटिस

 

देवेंद्र फडणवीस जो नागपुर के विधायक है तथा पिछले हफ्ताह इन्होने मुख्यमंत्री पद की शपत ली थी लेकिन बहुमत नहीं होने की वजह से 80 घंटे के बाद इस्तीपा देना पड़ा अब CM पद से इस्तीपा देने के बाद देवेंद्र फडणवीस को नागपुर पुलिस ने नोटिस भेजा।

CM पद से इस्तीपा देने के बाद देवेंद्र फडणवीस को नागपुर पुलिस ने भेजा नोटिस

CM पद से इस्तीपा देने के बाद देवेंद्र फडणवीस को नागपुर पुलिस ने भेजा नोटिस

  • नागपुर की स्थानीय अदालत ने महाराष्ट्र के पूर्व मुख़्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के खिलाफ नोटिस गुरुवार को जारी किया है।
  • फडणवीस पर चुनावी हलफनामे में अपने खिलाफ आपराधिक मामले को छुपाने का अपराध था।
  • और इसी लिए स्थानीय अदालत ने पूर्व मुख्यमंत्री के खिलाफ नोटिस जारी किया है।
  • सदर पुलिस थाना के अधिकारी ने बताया की देवेंद्र फडणवीस को यह नोटिस गुरुवार को भेज दिया गया है.
  • मजिस्ट्रेट कोर्ट ने आपराधिक मामलों को छुपाने वाले मामले आपराधिक कारवाही की मांग को पुनः स्थापित किया है.
  • तथा पुनः कारवाही कर नोटिस जारी किया है।
  • नागपुर शहर के वकील सतीश ऊके ने देवेंद्र फडणवीस के खिलाफ याचिका दायर की थी।
  • बोम्बे उच्च न्यायालय के वाकिन सतीष ऊके ने की याचिका को पेंडिंग रखा था
  • लेकिन HIGHCOURT ने इस याचिका की पुनः कारवाही का आदेश दिया।
  • मजिस्ट्रेट M D मेहता का कहना है की ; आरोपी को जनप्रतिनिधि अधिनियम 1951 की धारा 125A के तहत नोटिस जारी किया है।

READ ALSO ; फोटोग्राफर से मुख्यमंत्री बने उद्धव ठाकरे ;पिता बाबा साहेब ठाकरे को दिया वचन किया पूरा

नोटिस जाने के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओ का गुस्सा

नोटिस जाने के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओ का गुस्सा और बड़ गया बीजेपी कार्यकर्ताओ का कहना है की शिवसेना -एनसीपी -कांग्रेस तीनो पूर्व मुखयमंत्री को फ़साना चाहते है और उन्हें लोगो की नजरो में गिराना चाहते है ग्रहमंत्री अमित शाह ने अपने बयान में कहा था की शिवसेना ने महारष्ट्र के जनादेश को धोका दिया है उनका कहना है की चुनावी रैलियों में PM मोदी ने हर बार मुख्यमंत्री के रूप में देवेंद्र फडणवीस का नाम लिया था. और अब शिव सेना इस बात से इंकार कर रही है

देवेंद्र फडणवीस के खिलाफ 1996 व् 1998 में धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया था दोनों मामलो का आरोप कोर्ट ने तय नहीं किया था यह मामला अभी भी चल रहा है सतीष ऊके ने कहा की देवेंद्र फडणवीस ने चुनावी हलफनामे में इस बात का खुलासा नहीं किया।