दबंग 3 मूवी : सलमान खान की यह फिल्म एक्शन और कॉमेडी से भरपूर

 

 

Dabangg 3 Movie Review 20 दिसंबर 2019 को रिलीज़ हुई सलमान खान की जबरदस्त एक्शन मूवी दबंग 3 में सलमान खान सोनाक्षी सिन्हा तथा सही मुकेश स्टार के रूप में नजर आए इस फिल्म का निर्देशन प्रभुदेवा ने किया था

Dabangg 3 Movie Review सलमान खान की यह फिल्म एक्शन और कॉमेडी से भरपूर

यह फिल्म 20 दिसंबर 2019 को रिलीज हुई और लोगों ने इस फिल्म को बहुत जबरदस्त तरीके से पसंद किया लोगों ने इस फिल्म का इंतजार तब से शुरू कर दिया था जब इस मूवी का ट्रेलर रिलीज हुआ था पहले दिन बॉक्स ऑफिस पर यह फिल्म काफी अच्छी रही !सलमान खान की फिल्म दबंग 3 को प्रभु देवा द्वारा काफी अच्छी तरीके से डायरेक्ट की गई थी फैन सलमान खान की इस फिल्म का बड़ी उत्सुकता के साथ इंतजार कर रहे थे जो 20 दिसंबर को खत्म हो गया यह फिल्म दबंग फ्रेंचाइजी की तीसरी फिल्म है पहले दो फिल्में दबंग तथा दबंग 2 काफी हिट हो चुकी है

दबंग 3 कहानी

  • Dabangg 3 Movie Review दबंग 3 कहानी की शुरुआत एक ऐसे सीन से होती है
  • जिसमें चुलबुल पांडे शादी के लुटे गहनों को विलन से बचा कर उसे वापस दिलवाना चाहते है
  • और यूं कहे कि फिल्म की शुरुआत एक्शन और एक जबरदस्त कॉमेडी के अंदाज से होती है
  • इसी के चलते चुलबुल का सामना सरगना बाली से होता है
  • जो शहर का एक खूंखार में माफिया गुंडा होता है यह वही बाली है
  • जिसने चुलबुल पांडे से उनका सब कुछ छीन लिया था
  • और अब फिल्म में वे दोबारा यही करने की कोशिश करते हुए नजर आएंगे
  • फिल्म का यह सीन काफी बेहतरीन सीन है जब पांडे के सामने एक माफिया गुंडा आता है
  • चुलबुल पांडे की पत्नी रजो का किरदार सोनाक्षी सिन्हा निभा रही है
  • शादी के सीन के बाद काफी खुशी सोनाक्षी सिन्हा के चेहरे पर नजर आती है
  • पांडे की लव स्टोरी जो जिंदगी में जो से पहले आती है
  • बुलबुल की मां चुलबुल के भाई मक्खी सिंह के लिए पसंद करती है
  • मगर मक्खी को किसी और से प्यार हो जाता है
  • और उन्हें खुद संघ शादी करने के लिए कोई दिलचस्पी नहीं होती है
  • चुलबुल का दिल खुशी पर आ जाता है
  • और यहां से दोनों की पुरानी लव स्टोरी चलती हुई नजर आती है
  • फिल्म बीच में बैकग्राउंड में चलती है

read also ; नागरिकता संशोधन कानून का विरोध प्रदर्शन जारी; दिल्ली तथा उत्तर प्रदेश कई गाड़ियां फुकीं

इसी बीच बाली की नजर खुशी पर पड़ती है। जो दोनों की असल जिंदगी में ग्रहण का काम करता है। तभी से चुलबुल पांडे बाली से बदला लेने का ठानते हैं। क्या वह बाली से बदला ले पाते हैं, वह इस फिल्म में दिखाया गया है।