देशभर में नागरिकता संशोधन कानून लागू असम में लोगों का आक्रोश बड़ा

 

देशभर में नागरिकता संशोधन कानून लागू हो गया है नागरिकता संशोधन कानून भारत के गृह मंत्री  शाह द्वारा संसद में लाया गया था नागरिकता संशोधन कानून को लगातार पहले केंद्रीय कैबिनेट से मंजूरी मिली फिर लोकसभा में पास किया गया और उसके बाद राज्यसभा में पास होने के बाद नागरिकता संशोधन कानून पूरे देश भर में लागू हो गया है|

देशभर में नागरिकता संशोधन कानून लागू असम में लोगों का आक्रोश बड़ा

  • नागरिकता संशोधन कानून लागू होने के बाद असम त्रिपुरा तथा ;मिजोरम में इसके खिलाफ जबरदस्त विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है
  • असम में धारा 144 लगाई गई है लेकिन कई लोगों ने धारा 144 का उल्लंघन किया है
  • धारा 144 का उल्लंघन करते हुए लोगों ने पुलिस तथा सुरक्षा बलों की टीमों पर पथराव भी किया है
  • इसके खिलाफ में पुलिस ने मजबूरी में उन पर फायरिंग भी की
  • असम में विरोध प्रदर्शन बढ़ता देख इंटरनेट सुविधाओं को अगले 48 घंटों तक और बंद कर दिया गया है
  • इसके अलावा कुछ और सुरक्षाबलों की टीमों को तैनात किया गया है
  • सुरक्षा बलों की टीमों की तैनाती के बावजूद भी असम में विरोध प्रदर्शन लगातार जताया जा रहा है
  • असम एक छावनी की तरह बन चुका है
  • जहां पर भारतीय सेना के साथ-साथ कई सुरक्षा बल में भी हर चौराहे पर तैनात है|

Read also :-राजस्थान में बर्फबारी : इतिहास में पहली बार राजस्थान में इतनी तीव्र ओलावृष्टि हुई है।

नागरिकता संशोधन कानून  लागू होने के पीछे कई अहम कारण

भारत के गृह मंत्री अमित शाह ने बताए थे अमित शाह का कहना है कि जो लोग पाकिस्तान अफगानिस्तान तथा बांग्लादेश से अत्याचार झेल रहे थे और अपने अत्याचारों से मुक्ति पाने के लिए भारत में आए हैं उनको भारतीय नागरिकता दी जाएगी लेकिन उनको मतदान करने का हक नहीं दिया जाएगा इसके अलावा नागरिकता संशोधन बिल से भारत मैं कोई बुरा प्रभाव नहीं पड़ेगा लेकिन विपक्ष का कहना है कि भारत के गृह मंत्री अमित शाह भारत में मुस्लिमों के साथ अत्याचार करना चाहते हैं और धर्म के आधार पर भेदभाव करना चाहते हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट के जरिए असम के लोगों को शांति रखने का संदेश दिया