अचानक महाराष्ट्र के अस्पताल में लगी आग, 10 नवजात शिशु की मौत

0
अस्पताल में लगी आग
सरकारी अस्पताल में आग

महाराष्ट्र के अस्पताल में लगी आग:- महाराष्ट्र के भंडारा जिले में एक अस्पताल के सिक न्यूबॉर्न केयर यूनिट में शुक्रवार की रात लगभग 2:00 बजे के आस – पास लगी आग। यह बताया जा रहा हैं कि वहा ड्यूटी पर लगी नर्स जब कमरे में गई तो उसने वहा उठते धुएं को देखकर अस्पताल में मौजूद स्टाफ को सूचित किया। इस दौरान फायर ब्रिगेड को फोन किया गया, फायर ब्रिगेड ने अस्पताल में लगी आग पर काबू पाानी के लिए लोगो की मदद की और रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया। यह बताया गया है कि वहा कुल 17 बच्चे थे, जिसमे एक दिन से लेकर तीन माह तक के बच्चे मौजूद थे। आग लगने की वजह से 10 बच्चो की मौत हो गई। हालांकि 7 बच्चो को सुरक्षित निकालने की कामयाबी भी हासिल हुई।

 

हालांकि बताया जा रहा है कि आग बच्चो के लिए चलने वाले वॉर्मर में शॉट सर्किट की वजह से लगी।
नवजात शिशुओं की इस दर्दनाक मौत के बाद उनके परिवाजनों का रो रोकर बुरा हाल है, परिवारजन आग लगने की घटना की जांच की मांग कर रहे हैं।

अस्पताल को बताया दोषी

जांच के अनुसार बताया जा रहा है कि अस्पताल में अधिकारियों की संख्या कम और मरीजों की ज्यादा है।साथ ही आरोप है कि हादसे के दौरान वहा बच्चो को बचाने के लिए पर्याप्त अधिकारी नहीं थे।

अस्पताल में मौजूद नवजात के पिता हीरा लाल ने कहा कि मुझको बताया कि मेरी बच्ची चली गई है, अभी बच्ची का डेडबॉडी देने को कहा है, यहां लापरवाही चल रही है। वहीं गुमान चौधरी ने बताया कि हमको 2 बजे इसकी सूचना मिली. मेरी नातिन की मौत हो गई है। हमें उनसे मिलने भी नहीं देते थे।10 दिन हो गए हैं, लापरवाही हो रही है.

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे द्वारा इस हादसे पर दुख व्यक्त किया गया है,उनका कहना है कि अस्पताल के कर्मचारी ही इस हादसे के लिए जिम्मेदार है, लापरवाही बरतने वाले कर्मचारियो को जल्द ही निलंबित किया जाना चाहिए। ताकि भविष्य में ऐसी घटना न हो। उद्धव ठाकरे ने स्वास्थ्य विभाग के मंत्री राजेश टोपे के साथ – साथ भंडारा जिले के कलेक्टर और पुलिस अधिक्षक से बात की। तथा उन्हें जांच का आदेश दिया, साथ ही विधायक ने अस्पताल पर आरोप भी लगाया है। और दोषियों को तुरंत सस्पेंड करने की मांग की है।

घटना पर नरेन्द्र मोदी और अमित शाह ने किए ट्विट
PM नरेंद्र मोदी के साथ ही गृहमंत्री अमित शाह ने भी दुर्घटना पर दुख जाहिर किया है, उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है, ‘महाराष्ट्र के भंडारा जिले की घटना बेहद पूर्ण है, मैं अपने दुख और दर्द को शब्दों में बयां नहीं कर सकता। मैं इस मुश्किल घड़ी में शोक संतप्त परिवारों के साथ हूं. भगवान उन्हें इस अपूरणीय क्षति को सहन करने की शक्ति दे।

वहीं कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट किया है, ‘अस्पताल में आग लगने की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है. उन परिवारों के प्रति मैं संवेदना व्यक्त करता हूं, जिनके बच्चे इस हादसे का शिकार बने। मैं महाराष्ट्र सरकार से अपील करता हूं कि घायलों और मृतकों के परिवारों को हर संभव सहायता प्रदान की जाए’।

इसे भी पढ़ें:-

ट्रम्प समर्थकों का अमेरिकी संसद पर हमला

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here