घाटी की सीढ़ियों से फिसले पीएम मोदी; एसपीजी जवानों ने संभाला ,कोई चोट नहीं आई

गंगा नदी का प्रदूषण कम करना तथा गंगा नदी को साफ करने के लिए नमामि गंगे योजना के लिए गंगा नदी के परिरक्षण के लिए गए हुए थे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नदी का पार करने के बाद जब बाहर निकल रहे थे तब घाटी की सीढ़ियों से फिसले पीएम मोदी जैसे ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी घाटी की सीढ़ियों से फिसले तब उनकी सिक्योरिटी ने उन्हें जल्दी से उठा लिया हालांकि पीएम मोदी को कोई चोट नहीं आई|

घाटी की सीढ़ियों से फिसले पीएम मोदी; एसपीजी जवानों ने संभाला ,कोई चोट नहीं आई

  •   नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को चमड़ा उद्योग के लिए विख्यात कानपुर में राष्ट्रीय गंगा परिषद की पहली बैठक में हिस्सा लिया
  • और पतित पाविनी नदी की निर्मलता के लिए किए जा रहे कार्यों की समीक्षा की।
  • चंद्रशेखर आजाद कृषि तथा प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के सभागार में आयोजित बैठक में ;प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नमामि गंगे परियोजना के कार्यक्रम पर जानकारी दी
  • तथा लोगों को संबोधित करते हुए बताया कि गंगा नदी को शुद्ध करने का काम चल रहा है
  • नमामि गंगे परियोजना के तहत चल रहे कामकाज के बारे में कार्यकारिणी से भी मुलाकात की|
  • इस मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी
  • और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत मौजूद थे।

read also ;कांग्रेस की भारत बचाओ रैली : प्रियंका गांधी ने नागरिकों को बताया देश का मतलब।

प्रधानमंत्री मोदी ने नमामि गंगे परियोजना को लेकर नदी का किया निरीक्षण

  •   नरेंद्र मोदी शुक्रवार में कानपुर में हुई राष्ट्रीय गंगा परिषद को लेकर बैठक में शामिल हुए थे
  • इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नमामि गंगे परियोजना की;अगले चरण पर एक्शन लेने के बारे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से काफी अहम चर्चा की
  • इसके बाद मोदी ने परियोजना के असर का निरीक्षण करने के लिए घाट से नदी का निरीक्षण किया
  • निरीक्षण करने के बाद प्रधानमंत्री मोदी जब वापस कार से जा रहे थे
  • उनका पैर फिसल गया हालांकि उनकी सिक्योरिटी ने उन्हें जल्दी खड़ा कर दिया इस दौरान पीएम मोदी को कोई भी चोट नहीं आई

इस दौरान साथ मौजूद एसपीजी के जवानों ने उन्हें संभाला। नौकायन के लिए प्रयागराज से डबल डेकर मोटर बोट मंगाई गई थी।