हैदराबाद गैंगरेप मामले का विरोध दिल्ली पर जताया गया। पुलिस कांस्टेबल ने अनु दुबे पर दुर्व्यवहार किया।

हैदराबाद के अंदर एक वेटरनरी डॉक्टर का गैंगरेप और उसके बाद उसे जिंदा जला देने वाली घटना पूरे देश में आक्रोश पैदा कर चुकी है इस घटना का विरोध दिल्ली में भी जताया गया लेकिन दिल्ली में अनु दुबे नाम की युवती को महिला पुलिस कांस्टेबल ने गिरफ्तार कर दिया और उसके साथ बदतमीजी की।

हैदराबाद गैंगरेप मामले का विरोध दिल्ली पर जताया गया। पुलिस कांस्टेबल ने अनु दुबे पर दुर्व्यवहार किया।

अनु दुबे कई घंटों तक हाई सिक्युरिटी जोन संसद के बाहर धरने पर बैठी रही, जिससे हड़कंप मच गया. हालांकि बाद में पुलिस (Delhi Police) उसे थाने ले गई. पुलिस ने बताया कि युवती को संसद मार्ग थाने ले जाया गया. इसकी जानकारी मिलने पर दिल्ली महिला आयोग की टीम थाने पहुंची. जिसके बाद कुछ अधिकारियों ने अनु के साथ बात की और उसे दोबारा धरने पर नहीं बैठने की हिदायत देते हुए रिहा कर दिया.

यह भी पढे़ :- विधानसभा स्पीकर पद के लिए भाजपा नहीं उतारेगी अपना उम्मीदवार.

अनु दुबे के धरना देने का मकसद

देश भर में लड़कियों और महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध (Crime Against Women) के खिलाफ लोगों का गुस्सा फूट पड़ा है. शनिवार को राजधानी दिल्ली (Delhi) में अनु दुबे नाम की एक युवती ने संसद के बाहर फुटपाथ पर बैठकर धरना दिया. इस दौरान उसके हाथ में एक तख्ती थी। जिस पर लिखा था। “मैं अपने भारत में सुरक्षित क्यों नहीं महसूस करती.” दरअसल अनु के धरने पर बैठने का मकसद देश की बेटियों और महिलाओं की सुरक्षा को लेकर गुहार लगाना था ।

अनु दुबे पर महिला पुलिस कांस्टेबल का दुर्व्यवहार

  • इस मामले पर दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता ने कहा कि ये संवेदनशील इलाका है।
  • लड़की को कहा कि यहां धरने की इजाजत नहीं है।
  • उसको समझाया गया कि आपको प्रोटेस्ट करना है।
  • तो जंतर मंतर पर करें. लड़की नहीं मानी तो उसके बाद
  • महिला पुलिस की मदद से लड़की को शिफ्ट किया गया।
  • थाने लाया गया और पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया।
  • लड़की थाने में बदसुलूकी के जो भी आरोप लगा रही है।
  • उसकी जांच की जा रही है.

अनु दुबे का हैदराबाद गैंगरेप के विरुद्ध आंदोलन।

  • दरअसल अनु दुबे तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद
  • में एक वेटनरी महिला डॉक्टर के साथ हुए गैंगरेप और उसे जला कर मार डालने के खिलाफ धरने पर बैठी थी।
  • गुरुवार को युवती का जला हुआ शव एक पुलिया के नीचे मिला था।
  • उसे जलाने से पहले उसके साथ गैंगरेप किया गया था।
  • इसके अलावा झारखंड की राजधानी रांची में भी 25 साल की एक लॉ स्टूटेंड को
  • बस स्टॉप से अगवा कर बारह लोगों ने गैंगरेप किया था।
  • पुलिस ने पीड़िता की शिकायत के बाद कार्रवाई करते हुए
  • सभी बारह आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।
  • आधी आबादी के खिलाफ हुए इन जघन्य वारदातों से पूरा देश हिल गया है।