अब 5G इंटरनेट दौड़ेगा भारत में, इसरो ने किया संचार उपग्रह GSAT-30 को कक्षा में सफलतापुर्वक स्थापित

फ्रेंच गुयाना/नई दिल्ली: (Satellite GSAT-30 successfully launched) भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने भारत के सबसे शक्तिशाली संचार उपग्रह जीसैट-30 (GSAT -30) को कक्षा में सफलतापुर्वक स्थापित कर दिया है । इसरों ने गुरुवार 17 जनवरी 2020 को 2 बजकर 39 मिनट पर ट्विट कर इसकी शेयर करते हुए लिखा की “#Ariane5 Flight #VA251 carrying #GSAT30 and EUTELSAT KONNECT successfully liftoff”

भारत के इस संचार उपग्रह जीसैट-30 को फ्रेंच गुआना के कौरू स्थित स्पेस सेंटर यूरोपियन रॉकेट एरियन 5-वीटी 252 से लॉन्च किया गया। इसरो के अनुसार GSAT-30 का इस्तेमाल भारत में व्यापक रूप से VSAT (Very Small Aperture Terminal-वीसैट नेटवर्क), Television Uplinking, टेलीपोर्ट सेवाएं के लिए किया जाएगा ।

Satellite GSAT-30 successfully launched – LIVE from Kourou Launch Base, French Guyana

GSAT-30 उपग्रह से क्या लाभ होगा

भारत के इस सबसे शक्तिशाली संचार उपग्रह जीसैट-30 के लॉन्च होने से देश की संचार टेक्नोलोजी पहले से कई गुणा अधिक मजबूत हो जायेगी । इसके सफल परिक्षण से अब जहां पर पहले नेटवर्क नही आता था वहां पर भी आपको सही से मोबाइल सिग्नल मिलने लगेंगे और इंटरनेट की स्पीड में भी बढ़ोतरी होगी । जिसे हम यूँ भी कह सकते है की अब भारत में 5G इंटरनेट का दौर आने वाला है ।

About GSAT-30

Satellite GSAT-30 के Successfully launched किये जाने के बाद आइये जानते है इस Satellite के बारे में की इसे किसके द्वारा बनाया गया ? इसे बनाने में वैज्ञानिकों को कितना समय लगा ? इत्यादि की सम्पूर्ण जानकारी..

  • प्रमोचन भार / Launch Mass: 3357 kg
  • मिशन कालावधि / Mission Life : More than 15 yearsAriane-5 VA-251
  • उपग्रह का प्रकार / Type of Satellite: Communication
  • निर्माता / Manufacturer: ISRO
  • स्‍वामी / Owner: ISRO
  • अनुप्रयोग / Application: Communication
  • कक्षा का प्रकार / Orbit Type: GSO

GSAT-30 के बारे में और अधिक जानकारी के लिए isro.gov.in पर जाए .

Leave a Comment