IPL 2020: कोलकाता नाइटराइडर्स ने रोबिन उथप्पा तथा पीयूष चावला समेत कई खिलाड़ियों को किया बाहर

कोलकाता नाइटराइडर्स( KKR) एक Indian premier leauge की टीम है इस टीम के कप्तान दिनेश कार्तिक है इस टीम का होम ग्राउंड ईडन गार्डन कोलकाता है

इस टीम के मालिक शाहरुख खान जूही चावला और जय मेहता है यह टीम इंडियन प्रीमियर लीग की काफी लोकप्रिय है| इस टीम के पुराने कप्तान सौरभ गांगुली थे|

आईपीएल 2020 को देखते हुए कोलकाता नाइटराइडर्स ने किया बड़ा बदलाव

  • कोलकाता नाइट राइडर्स टीम ने दो बार आईपीएल खिताब जीता है
  • तथा साल 2011 में क्वालीफाई तक पहुंची है
  • यह टीम काफी लोकप्रिय है; इस टीम की लोकप्रियता उनके मालिक शाहरुख खान, जूही चावला तथा जय मेहता की वजह से बहुत ज्यादा है
  • 2020 में होने वाली आईपीएल को देखते हुए इस टीम में काफी बड़ा बदलाव किया गया है
  •  ओपनर बल्लेबाज रोबिन उथप्पा भी साल 2020 में कोलकाता नाइट राइडर्स आईपीएल नहीं खेलेंगे|
  •  टीम से एनरिक नोत्र्जे, कार्लोस ब्रेथवेट, क्रिस लिन, जो डेनली, केसी करियप्पा, मैट केली, निखिल नाइक, पीयूष चावला, पृथ्वीराज यारा, रोबिन उथप्पा, श्रीकांत मुंडे इन खिलाड़ियों को साल 2020 में कोलकाता नाइट राइडर की तरफ से आईपीएल खेलने की जगह नहीं मिलेगी इसके साथ ही कई नए खिलाड़ियों को खेलने का मौका दिया गया है

ALSO READ :-भारत और बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में कोलकाता पहुंची टीम इंडिया

IPL 2020 मे कोलकाता नाइटराइडर्स की टीम   : आंद्रे रसेल, दिनेश कार्तिक, हैरी गुर्ने, कमलेश नागरकोटी, कुलदीप यादव, लॉकी फग्र्यूसन, नीतिश राणा, प्रसिद्ध कृष्णा, रिंकू सिंह, संदीप वॉरियर, शिवम मावी, शुभमन गिल, सिद्धेश लाड, सुनील नरेन।

कोलकाता नाइट राइडर्स का आईपीएल में इतिहास

  •  2008 में केकेआर टीम अपने प्रशंसकों की उम्मीदों पर खरी नहीं उतर पाई
  • तथा 2008 की लिस्ट में कोलकाता नाइट राइडर्स ने छठा स्थान हासिल किया
  • 2009 -2010 भी इस टीम का खराब चल रहा|
  •  2011 मैं कोलकाता नाइट राइडर्स ने एक नई शुरुआत करके टीम को क्वालीफाई तक पहुंचाया था
  • उसके बाद साल 2012 का आईपीएल खिताब कोलकाता नाइट राइडर्स ने जीता था
  • यह किताब गौतम गंभीर की कप्तानी में जीता गया|
  • 2013 में टीम का प्रदर्शन फिर बिगड़ा और वह छठे स्थान पर रही।
  • हालांकि, 2014 में टीम एकजुट नजर आई और खिताब जीता।
  • 2015 में केकेआर पांचवें स्थान पर रही।
  • 2016 में चौथे और पिछले साल वह तीसरे स्थान पर रही।
  • 2017 तथा साल 2018 में केकेआर टीम के लिए उतना बेहतरीन नहीं रहा