सेना प्रमुख बिपिन रावत का बड़ा बयान LOC पर कभी भी खराब हो सकते हैं हालात

LOC Jammu Kashmir जनरल बिपिन रावत सेना प्रमुख ने कहा जम्मू कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर हालात कभी भी खराब हो सकते हैं इसी को देखते हुए जवानों को सतर्कता बनाने की बात कही

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत का बड़ा बयान LOC Jammu Kashmir  पर कभी भी खराब हो सकते हैं हालात

सेना प्रमुख ने कहा कि जब से जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटी है तब से पाकिस्तान की ओर से नियंत्रण रेखा पर लगातार संघर्ष जारी है ऐसे में हमारी सेना किसी भी हालात से निपटने के लिए किसी भी समय तैयार है सूत्रों के मुताबिक कहना है कि पाकिस्तान की सेना लगातार भारतीय सेना को निशाना बनाने के लिए तैयार है वह किसी भी समय हमला बोल सकती है ऐसे में हमारे भारतीय सेना के जवान भी हर हालात से निपटने को तैयार हैं इतना ही नहीं सेना प्रमुख नहीं अभी कहा पाकिस्तान ऐसा देश है जो  अपने आपको खुद खत्म करने की कोशिश करता रहता है  LOC Jammu Kashmir  पर कभी भी खराब हो सकते हैं हालात

रिटायर होने से पहले कहीं बड़ी बात::-

  • जनरल बिपिन रावत 31 दिसंबर को रिटायर होने से पहले ;सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने सेना को अपना आक्रामक रूप दिखाने को कहा है
  • सेना प्रमुख विपिन रावत रिटायर होने के बाद ऐसा माना जा रहा है
  • कि उन्हें देश का पहला चीफ डिफेंस स्टाफ घोषित किया जा सकता है
  • सेना प्रमुख ने कहा कि बॉर्डर पर लगातार हमले हो रहे हैं
  • लेकिन हमारी सेना से निपटने में कामयाब है धीरे-धीरे अब घाटी में हालात सुधर रहे हैं
  • लेकिन अभी भी सतर्कता की जरूरत है ताकि एलओसी पर हालात ना बिगड़े

read also ; CAA protest :क्या है CAA और NRC जिसके लिए पूरे देश में हो रहा है धरना प्रदर्शन

सेना प्रमुख ने कहा पाकिस्तान अपने आपको खुद मिटाने के रास्ते पर चल चुका है ::-

  • जनरल बिपिन रावत ने कहा पाकिस्तानी कैसा देश है
  • जो अपने ऊपर नियंत्रण नहीं रख सकता है सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा कि पाकिस्तान ऐसा देश है
  • जो ऐसी हरकतों से अपने आप को खुद खत्म करना चाहता है
  • और इसके लिए वह कई तरीके के हथकंडे अपनाता रहता है
  • सेना प्रमुख ने कहा कि बॉर्डर पर पाकिस्तान के आर्मी के सिवा कुछ आतंकी संगठन भी होते हैं
  • जो लगातार अपनी टीम के साथ बॉर्डर पर हमला करते रहते हैं
  • सेना प्रमुख ने कहा पाकिस्तान ऐसा देश है जो अपना नियंत्रण खो बैठा है
  • जिस को नियंत्रण में लाने की जरूरत है और और वह जैसी स्थिति में है हमें कुछ करने की जरूरत नहीं है
  • वह खुद ही विनाश के रास्ते पर आगे बढ़ रहा है