महिला सुरक्षा कानून राजनाथ सिंह : राजनाथ सिंह ने किया समर्थन

महिला सुरक्षा कानून राजनाथ सिंह : सांसदों का फूटा गुस्सा राजनाथ सिंह ने किया समर्थन | हैदराबाद गैंग रेप हत्याकांड के बाद महिला सुरक्षा को लेकर पूरे देश में लोग सड़कों पर उतर आए हैं हैदराबाद में हुई दिल दहलाने वाली घटना के बाद लोगों का महिला सुरक्षा को लेकर सरकार के गुस्सा बढ गया

महिला सुरक्षा कानून राजनाथ सिंह :  राजनाथ सिंह ने किया समर्थन

  • देश के सभी नेताओं का मानना है कि महिला सुरक्षा को लेकर और सख्त कानून बनाया जाए
  • जिससे अपराधियों में भय पैदा हो सोमवार को हुई बैठक में सांसदों ने महिलाओं पर हो रहे
  • अत्याचार तथा गैंगरेप जैसे मामले को लेकर अपना गुस्सा जाहिर किया इसमें राजनाथ सिंह ने
  • भी नए कानून बनाने को लेकर समर्थन किया|सोमवार को राज्य सभा में सभी राजनीतिक दलों
  • के सदस्यों ने दलगत राजनीति से ऊपर उठकर देश की पुलिस तंत्र और न्याय प्रणाली पर सवाल उठाये।
  • आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह और कई अन्य दलों के नेताओं ने देश में
  • हाल ही में महिलाओं के प्रति बढ़ रहे
  • अपराध और महिलाओं के साथ हो रहे गैंगरेप में बढ़ोतरी पर रोक लगाने के लिए
  • संसद में चर्चा की नियम 267 के तहत
  • चर्चा करने को लेकर जारी हुए नोटिस पर सोमवार सुबह संसद भवन में महिला
  • सुरक्षा को बढ़ाने के लिए अहम चर्चा हुई
  • सभापति एम वेंकैया नायडू ने कहा कि इस मुद्दे पर संसद में कई बार चर्चा हो
  • चुकी है लेकिन फिर भी देश में इस प्रकार
  • की घटनाएं दिन-प्रतिदिन बढ़ रही है और अपराधियों में कोई भय पैदा नहीं हुआ है
  • महिला को लेकर कई सख्त कानून भी बनाए गए हैं
  • लेकिन अपराधियों में कोई डर पैदा नहीं हुआ वह इस मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार है लेकिन इसके लिए
  • किसी राज्य या सरकार का नाम नहीं लिया जायेगा। इस पर शून्यकाल के तहत ही चर्चा की जायेगी।
  • रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी इस बात का समर्थन करते हुए कहा कि हम नए कानून बनाने को तैयार है लेकिन
  • इस पर किसी भी सरकार का नाम नहीं ले और किसी भी सरकार पर दबाव नहीं बनाए|

ALSO READ :- 40000 करोड रुपए बचाने के लिए देवेंद्र फडणवीस 80 घंटों के लिए बने थे सीएम

सामाजिक स्तर पर बदलाव जरूरी: गुलाब नबी आजाद

जब भी सदन में कोई कानून बनाने को लेकर बात हुई तब विपक्ष ने कई बार विरोध किया लेकिन

महिला सुरक्षा को लेकर पहली बार विपक्ष एकजुट हुआ है सदन में विपक्ष नेता गुलाम नबी ने चर्चा शुरू

की जैसे बताया कि महिला सुरक्षा को लेकर कई बार सदन में चर्चा हुई है और कई सख्त कानून बनाए गए हैं

लेकिन अपराधियों में कोई पैदा नहीं हुआ है इसके लिए समाज स्तर पर बदलाव लाना जरूरी है तथा सामाजिक

स्तर पर पहल एक अहम भूमिका रखेगी कानून और पुलिस इस मामले का हल नहीं कर

पाएगी इसके लिए सामाजिक पहल बहुत ही जरूरी है