नागरिकता संशोधन बिल पास होने के बाद विपक्ष ने जताया विरोध

 

केंद्र सरकार आए दिन बड़े-बड़े फैसले ले रही है पहले धारा 370 हटा कर जम्मू कश्मीर के विकास को बढ़ावा दिया तथा जम्मू कश्मीर के भविष्य को उजागर किया है उसके बाद एसपीजी सुरक्षा का बिल पारित किया उसके बाद मोटर व्हीकल एक्ट बिल भारतीय जनता पार्टी ने पारित किया अब केंद्र सरकार को एक और नए बिल की मंजूरी मिल गई है केंद्र सरकार को नागरिकता संशोधन बिल की कैबिनेट से मंजूरी मिल गई है नागरिकता संशोधन बिल की कैबिनेट से मंजूरी मिलने के बाद विपक्षी पार्टियों ने विरोध प्रदर्शन जताया विपक्षी पार्टियों का कहना है कि केंद्र सरकार धर्म के आधार पर भेदभाव कर रही है|

नागरिकता संशोधन बिल पास होने के बाद विपक्ष ने जताया विरोध

  • केंद्र सरकार द्वारा लाए गए  NRC  को कैबिनेट ने मंजूरी दे दी
  • कैबिनेट की मंजूरी मिलने के बाद विपक्ष ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया
  • विपक्ष ने NRC  को असंवैधानिक बताते हुए
  • मोदी सरकार तथा केंद्र सरकार का धर्म के आधार पर भेदभाव करना बताया
  • कई नेताओं ने ट्वीट के जरिए तो कई नेता सोशल मीडिया के जरिए; केंद्र सरकार के विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं
  • इतना ही नहीं कांग्रेस कार्यकर्ता तथा अन्य विपक्षी पार्टियों के कार्यकर्ता सड़कों पर पुतले जलाकर ;NRC  का विरोध कर रहे हैं
  • NRC के खिलाफ लोगों ने जमकर प्रदर्शन जारी कर दिया है|

औवेसी तथा शरद पवार ने भी नागरिकता संशोधन बिल का किया विरोध

  • औवेसी ने NRC  की कैबिनेट से मंजूरी मिलने के बाद ट्वीट के जरिए बताया कि ;केंद्र सरकार देश में
    असंवैधानिक बिल पारित कर रही है
  • ओबीसी का कहना है कि ;यह बिल पारित करके केंद्र सरकार देश में अलग-अलग धर्म के लोगों के साथ भेदभाव करना चाहती है
  • औवेसी के अलावा; शरद पवार तथा महाराष्ट्र में कई कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया है|

READ ALSO ; नागरिकता संशोधन बिल केंद्रीय कैबिनेट से हुआ पास

NRC के खिलाफ विरोध प्रदर्शन को लेकर अमित शाह ने कहा कि इसके लिए कैबिनेट की बैठक बनाई गई है जिसमें सभी राज्यों के मुख्यमंत्री तथा जहां राष्ट्रपति शासन है उस देश के राज्यपाल को चिट्ठी भेज दी है और सबके साथ इस मामले पर बैठक होगी