नया वायरस बर्ड फ्लू: देश में बर्ड फ्लू नाम की एक नई आफत ने दी दस्तक

0
देश में बर्ड फ्लू नाम की एक नई आफत ने दी दस्तक
यह बीमारी इंसानों के साथ जानवरों और पक्षियों में भी तेजी से फैलती है

नया वायरस बर्ड फ्लू: वर्ष 2021 की शुरुआत में कोरोना महामारी से राहत होने की आस लगाए बैठे थे देशवासी, लेकिन उनकी यह आस अब आस ही रह गई है, क्योंकि देश के राज्यों में बर्ड फ्लू की नई आफत ने दस्तक दे दी है, ताजा जानकारी के मुताबिक देश के राज्य मध्य प्रदेश राजस्थान केरल हरियाणा हिमाचल प्रदेश और झारखंड में बड़ी तादाद में पक्षियों की मौतें हुई हैं, जिसको लेकर देश के राज्य सरकारों की चिंता और भी बढ़ गई है, ताजा आंकड़ों से पता चल रहा है कि देश के उपरोक्त राज्यों में बर्ड फ्लू काफी तेजी से फैल रहा है|

 

बर्ड फ्लू को लेकर विगत सोमवार को देश के राज्य केरल हिमाचल प्रदेश और राजस्थान ने इस बात की पुष्टि तक कर दी है कि उनके यहां बड़े पैमाने पर पक्षियों की मौत की वजह सिर्फ फ़्लू ही है, देश के राज्य मध्यप्रदेश में कम में इसकी पुष्टि विशेषज्ञ द्वारा की जा चुकी है इसके अलावा गुजरात और महाराष्ट्र में भी इस बीमारी की खबरें आ रही है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार हिमाचल प्रदेश के एनिमल हसबेंडरी डिपार्टमेंट में सीनियर वेटरनरी पैथोलॉजी और बर्ड फ्लू के नेशनल कंसलटेंट विशेषज्ञ विक्रम सिंह बताते हैं कि राज्य के कांगड़ा जनपद में कांग्रेस का क्षेत्र इसका एपी सेंटर है, जहां 2500 से अधिक प्रवासी पक्षियों की जान जा चुकी है, जिसको लेकर प्रशासन द्वारा इस क्षेत्र के 10 किलोमीटर के दायरे में अलर्ट जारी किया गया है, और काफी सतर्कता बरती जा रही है लेकिन अभी तक पोल्ट्री में इसके लक्षण नहीं मिले हैं, क्योंकि इस क्षेत्र में कोई भी पोल्ट्री फार्म मौजूद नहीं है, बर्ड फ्लू को लेकर विशेषज्ञों का कहना है कि यदि समय रहते विशेष से सतर्कता नहीं बरती गई तो कोरोना की तरह बर्ड फ्लू भी महामारी बन कर तबाही मचा सकता है।

कोरोना महामारी के साथ-साथ राज्य सरकार ने मछलियों की खरीद और बिक्री व पोल्ट्री फार्म पर पूर्णता रोक लगा दी है, क्योंकि इस इलाके में पकड़ी गई मछलियों में यह फ़्लू पक्षियों के माध्यम से पहुंच सकता है। मध्यप्रदेश के इंदौर में अभी पिछले हफ्ते ही कौवों की हुई बड़ी संख्या में मौत के बाद जांच के दौरान पुष्टि उनमें बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई थी, जिसके बाद सतर्कता बरतते हुए प्रशासन ने फ्लोर अलर्ट जारी कर दिया था।

मध्यप्रदेश में बर्ड फ्लू से प्रभावित जगहों पर डिसइन्फेक्शन करवाने पेड़ों के नीचे लोगों को जाने से रोकने एवं पक्षियों को पॉलीथीन में बंद करके जमीन के काफी अंदर दफन करने जैसे उपायों को अपनाया जा रहा है। रिपोर्ट के अनुसार बता दें कि इंदौर के अलावा खंडवा, बड़वानी, मंदसौर, नीमच, सीहोर, रायसेन, और उज्जैन समेत कई जगह पर पक्षियों के मरने की खबरें मिली है।

देश के कई राज्यों में वर्ल्ड फ्लू के एच5 एन8 स्वरूप (स्ट्रेन) पर काबू पाने के लिए अलर्ट जारी करने के साथ-साथ मरे हुए पक्षियों के सैंपल जांच के लिए भेज दिए गए हैं, देश के कई राज्यों में कौवा और मुर्गी की मौतें हुई, जिसके चलते कई राज्यों ने बर्ड फ्लू आफत से बचने के लिए उन्हें मारना पड़ा, केरल में भी मुर्गा और बता को मारना शुरू कर दिया गया है|

इस लेख को पढ़ने के लिए धन्यवाद:  नया वायरस बर्ड फ्लू: देश में बर्ड फ्लू नाम की एक नई आफत ने दी दस्तक

आपको यह भी पसंद आ सकता है:

राजस्थान में कब शुरु होंगे स्कूल, जानिए नया अपडेट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here