PM e-Vidya प्रोग्राम होगा लांच : वित्त मंत्री

हाल ही में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में वित्त मंत्री ने बयान दिया है कि जल्द ही प्रधानमंत्री ई-विद्या प्रोग्राम (PM e-Vidya Program) शुरू किया जाएगा जिसके तहत छात्रों को ई-पाठशाला के माध्यम से ऑनलाइन शिक्षा प्रदान करने के लिए 12 नए चैनल बनाए जाएंगे।

प्रधानमंत्री ई-विद्या प्रोग्राम 2020 में ई-पाठशाला का होगा निर्माण

भारत के वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा घोषणा की गई है कि 2020 में पीएम ई-विद्या कार्यक्रम के तहत देश में e-pathshala का निर्माण किया जाएगा।

ई-पाठशाला में 200 नई पुस्तकें जोड़ी जाएंगी और दिव्यांग बच्चों के लिए भी ऑनलाइन कोर्स के जरिये क्लासेज लगाई जाएंगी।

वित्त मंत्री ने बताया कि बच्चों के मानसिक स्वास्थ्य के लिए “मनोदर्पण कार्यक्रम” भी लाया जाएगा।

मोदी सरकार द्वारा डिजिटल इंडिया के सपने को साकार करने के लिए ग्रामीण इलाकों में नई तकनीक के जरिए ऑनलाइन पढ़ाई करवाई जाएगी।

कक्षा 1 से लेकर 12 तक के विद्यार्थियों के लिए “वन क्लास वन चैनल” बनाया जाएगा।

वन क्लास वन चैनल को अगर हम साधारण शब्दों में समझें तो इसका अर्थ यह है कि प्रत्येक कक्षा के लिए एक अलग से ऑनलाइन चैनल बनाया जाएगा जिसके तहत 12 नए ऑनलाइन चैनल स्थापित होंगे जिनके माध्यम से बच्चों को शिक्षा दी जाएगी।

सेकंडरी और सीनियर कक्षा के अलावा उच्च स्तर की शिक्षा के लिए 100 विश्वविद्यालयों को ऑनलाइन क्लास लगाने की मंजूरी प्रदान की गयी है।

एचआरडी मंत्रालय द्वारा प्रधानमंत्री ई-विद्या प्रोग्राम के जरिए लाइव क्लास का इंतजाम किया जाएगा।

PM e-Vidya Program FAQ

वित्त मंत्री के द्वारा इस ने कार्यक्रम को लांच करने के बाद आपके मन में काफी प्रश्न उठ रहे होंगे कि इस कार्यक्रम के जरिए क्या होने वाला है जिसकी तमाम जानकारी हम यहां पर दे चुके हैं और जो भी नई जानकारी हमें प्राप्त होगी वह आपको उसी क्षण दे दी जाएगी।

प्रधानमंत्री ई-विद्या प्रोग्राम कब और किसके द्वारा शुरू किया गया?

मोदी सरकार द्वारा 17 मई 2020 को।

पीएम ई-विद्या कार्यक्रम कौन सी कक्षाओं के छात्रों के लिए जारी हुआ है?

कक्षा 1 से लेकर कक्षा 12 तक।

ई-पाठशाला के तहत डिजिटल इंडिया का सपना कैसे साकार होगा ?

200 नई पुस्तकों को ई-पाठशाला जोड़ा जाएगा और ऑनलाइन क्लासेस लगाई जाएगी।

PM e-Vidya Program की देखरेख भारत सरकार का कौनसा मंत्रालय करेगा?

एचआरडी मंत्रालय।

Leave a Comment