आटा, दाल, बेसन व तेल मिलों को लॉकडाउन में खोलने की अनुमति

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना लॉकडाउन के चलते लिया बड़ा फैसला : आटा, दाल, बेसन व तेल मिलों को लॉकडाउन में खोलने की अनुमति।

आटा, दाल, बेसन व तेल मिलों को लॉकडाउन में खोलने की अनुमति

जैसा कि हम सब जानते हैं 3 दिन पहले देश के प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी जी ने कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकने के लिए पूरे देश में 21 दिनों का लॉक डाउन घोसित किया था।

और सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से आग्रह किया था इस लोक डाउन को राजनीति से परे रखकर स्वीकार किया जाए जिससे कोरोना का संक्रमण रोका जा सके।

कुछ किसान संगठनों द्वारा राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखकर निवेदन किया गया था कि एक गरीब व्यक्ति की सामान्य जरूरत जैसे कि आटा दाल बेसन तेल आदि की जरूरतों को पूरा करने के लिए मंडियों व इनसे जुड़ी फैक्ट्रियों को खोलने के निर्देश दिए जाएं।

उनकी बातों पर विचार विमर्श करने के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री ने अभी मंडियों को खोलने व आटा, दाल, बेसन और तेल मिलों को लोक़ डाउन में भी खोलने की अनुमति प्रदान की है।

हालांकि इनके लिए बहुत से दिशा-निर्देश भी दिए गए हैं जो इस प्रकार हैं।

लोकडाउन में भी उद्योगों को खुले रखने हेतु जरूरी दिशानिर्देश

सभी उद्योग जिन्हें लोक डाउन में भी खोलने की अनुमति जारी की गई है उनको खोलने से पहले और उन में प्रवेश करने से पहले सैनिटाइज करना आवश्यक रखा गया है।

जो भी मजदूर या अन्य क्रमिक वहां पर काम करेंगे उन्हें उद्योगों में प्रवेश करने से पहले अपने हाथों को सैनिटाइजर से धोना होगा और मुंह को मास्क से ढक कर ही प्रवेश करना होगा।

काम समाप्त होने के बाद जो भी व्यक्ति या किसी काम से कोई भी व्यक्ति कुछ उद्योग से बाहर निकलेगा तब भी उसे अपने हाथों को सैनिटाइज कर कर वह पुराना मास्क उतार कर नया मास्क लगाकर बाहर निकलने की अनुमति दी गई है।

और साथ में यह भी कहा गया है जो भी व्यक्ति इन जरूरी दिशा निर्देशों की पालना करता हुआ नहीं पाया जाएगा उसके ऊपर उचित कार्यवाही की जाएगी।

Leave a Comment