राजस्थान में बर्फबारी : इतिहास में पहली बार राजस्थान में इतनी तीव्र ओलावृष्टि हुई है।

मरुस्थली धोरों में बर्फ की चादर, राजस्थान में बर्फबारी गुरुवार दोपहर के बाद राजस्थान के 1 जिले नागौर में 1 घंटे तक तेजी से बर्फबारी हुई।

राजस्थान में बर्फबारी : इतिहास में पहली बार राजस्थान में इतनी तीव्र ओलावृष्टि हुई है।

राजस्थान एक मरुस्थल का क्षेत्र है। और यहां पर धूप और रेत के अलावा कुछ नहीं पाया जाता है। लेकिन आज एक अनोखा हो गया है। क्योंकि आज अगर आप राजस्थान का नजारा देखेंगे तो आपको राजस्थान में कश्मीर जैसा देखने को मिलेगा। क्योंकि कल रात राजस्थान के मध्य इलाका नागौर अजमेर पाली आदि जिलों में जोरदार ओलावृष्टि हुई है। इस ओलावृष्टि ने काफी देखने योग्य माहौल बना दिया है। नागौर में सबसे ज्यादा ओलावृष्टि हुई है।  नागौर की जनता ने अब तक ऐसी तीव्र और भयानक ओलावृष्टि अपने जीवन काल में नहीं देखी है।

नागौर में ओलावृष्टि के परिणाम

इस समय नागौर में होने वाली ओलावृष्टि से जान माल की तो हनी होने की अब तक कोई खबर नहीं है। लेकिन ऐसे मौसम में जीव जंतुओं का पशुओं के लिए काफी परेशानी हो चुकी है। नागौर के अंदर इतनी तेज बर्फबारी होने के कारण जमीन की सतह पर बर्फ की चादर ढक गई है। इस ओलावृष्टि के कारण अब नागौर में टेंपरेचर और भी ज्यादा गिर चुका है। और अब नागौर की आम जनता काफी परेशान है। नागौर जिले के अंदर इस मौसम में 1 घंटे तक लगातार तीव्र गति से बर्फबारी हुई है। इस बार बारी के अंदर छोटे-छोटे पत्थरों के आकार में बर्फ के ओले गिरे हैं।

Read also :-GOOD NEWWZ MOVIE 27 दिसंबर को होगी रिलीज: ट्रेलर रिलीज होने के बाद लोग कर रहे हैं इंतजार

नागौर के बाद अब इन जिलों की बारी

  • नागौर में बर्फबारी होने के बाद अब राजस्थान में और कई जिलों को अलर्ट किया गया है।
  • मौसम विभाग का कहना है कि 13-14 दिसंबर को राजस्थान की राजधानी
  • जयपुर, टोंक, कोटा, जोधपुर, सवाई माधोपुर, चूरु, हनुमानगढ़,
  • गंगानगर, पाली, सिरोही, अजमेर, नागौर, बाड़मेर, जैसलमेर आदि जिलों
  • में और भी तेज ओलावृष्टि होने की संभावना है।
  • इन जिलों में भी नागौर की जैसी स्थिति बनने की संभावना जताई जा रही है।
  • और नागौर में होने वाली बर्फबारी से पूरी राजस्थान के तापमान पर काफी असर पड़ा है।