खुद के ओएसडी की गिरफ्तारी पर क्या बोले मनीष सिसोदिया?

नई दिल्ली : 6 फरवरी 2020 की रात को दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के ओएसडी गोपाल कृष्ण को रिश्वत लेने के आरोप में सीबीआई ने गिरफ्तार कर लिया है।

गोपाल कृष्ण के रिश्वत लेने के जुर्म में जब सीबीआई द्वारा गिरफ्तारी की बात सामने आई तो मनीष सिसोदिया ने उसका बचाव करने के बजाए उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग रखी।

खुद के ओएसडी की गिरफ्तारी पर क्या बोले मनीष सिसोदिया?

सिसोदिया ने कहा : मुझे पता चला है कि सीबीआई ने एक जीएसटी इंस्पेक्टर को रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है और यह अधिकारी मेरे ऑफिस में बतौर ओएसडी तैनात था। ऐसे कई भ्रष्टाचारी अधिकारी मैंने खुद पिछले 5 साल में पकड़े हैं और इसके लिए भी मैं सीबीआई से तुरंत सख्त से सख्त सजा दिलाने की गुजारिश करता हूं।

8 फरवरी 2020 वार शनिवार को दिल्ली में विधानसभा चुनाव 2020 के लिए सभी 70 सीटों पर मतदान होना है।

और इसी बीच चुनाव प्रचार के दौरान आम आदमी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी के बीच तीखे बयानों आरोप-प्रत्यारोप का लंबा सिलसिला जारी है।

इन्हीं बयानों में कल रात हुई मनीष सिसोदिया के ओएसडी की रिश्वत लेने के आरोप में हुई गिरफ्तारी भारतीय जनता पार्टी के लिए आम आदमी पार्टी को निशाना बनाने के लिए वजह बनी।

सीबीआई से मिली सूचना के अनुसार कल देर रात जीएसटी से जुड़े ₹200000 की रिश्वत लेने के आरोप में गोपाल कृष्ण को गिरफ्तार किया गया।

आपको बता दें कि गोपाल कृष्ण मनीष सिसोदिया के कार्यालय में 2015 में तैनात हुआ था।

आम आदमी पार्टी के हाल ही के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि हमारी पार्टी भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस पर काम करती है।

जो भी भ्रष्टाचार करेगा फिर चाहे वह आम आदमी पार्टी से जुड़ा हो या किसी अन्य पार्टी से उसे किसी हाल में नहीं बख्शा जाना चाहिए।

Read This : Congress candidate list Delhi Election 2020

अब हमें देखना यह होगा कि दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 के अंदर सिसोदिया के ओएसडी गोपाल कृष्ण भ्रष्टाचार मामले में इस गिरफ्तारी को भारतीय जनता पार्टी किस तरह से वोट बैंक को अपनी तरफ आकर्षित करने में इस्तेमाल करती है, जुड़े रहिए indnewstv के साथ Delhi Vidhansabha Chunav 2020 से जुड़ी प्रत्येक खबर के लिए।

Leave a Comment