उद्धव ठाकरे की अग्नि परीक्षा, आज साबित करना होगा बहुमत .

उद्धव सरकार के बहुमत साबित करने, नए अध्यक्ष के चुनाव, विरोधी पक्ष नेता की घोषणा और राज्यपाल के अभिभाषण के लिए विधानसभा की दो दिन की विशेष बैठक बुलाई गई है। शनिवार को उद्धव ठाकरे  बहुमत साबित करेगी।

 ठाकरे की अग्नि परीक्षा, आज साबित करना होगा बहुमत .

उद्धव ठाकरे की अग्नि परीक्षा, आज साबित करना होगा बहुमत .

माना जा रहा है कि ठाकरे सरकार आसानी से बहुमत साबित कर लेगी, क्योंकि शिवसेना के 56, एनसीपी के 54 और कांग्रेस के 44 विधायक हैं। बहुमत के लिए 145 विधायकों का समर्थन चाहिए और आघाडी के पास 154 विधायक हैं। रविवार को विधानसभा के अध्यक्ष का चुनाव होगा और विरोधी पक्ष नेता की घोषणा होगी। रविवार को ही राज्यपाल का अभिभाषण होगा। शुक्रवार को महाराष्ट्र विधानसभा का अस्थायी (प्रोटेम) अध्यक्ष कालिदास कोलंबकर को हटाकर एनसीपी के दिलीप वलसे पाटील को नियुक्त किया गया है। पाटील की निगरानी में ही ठाकरे सरकार अपना बहुमत साबित करेंगे।

162 विधायक होने का दावा

शपथ ग्रहण से पहले महा अघाड़ी के तीनों दलों के विधायकों ने एक साथ इकट्ठा होकर मुंबई के एक निजी होटल में शक्ति प्रदर्शन किया था। इसके अलावा तीनों दलों ने निर्दलीय विधायकों के भी अपने साथ होने के दावे किए थे। इस दौरान यह दावा किया गया था कि उनके साथ 162 विधायक हैं।

READ ALSO;झारखंड विधानसभा चुनाव में हुआ हमला, जानिए पूरी खबर.

बहुमत साबित करने की जल्दी

  • उद्धव ठाकरे शिवसेना के उम्मीदवार हैं और उन्होंने 28 नवंबर को सीएम पद की शपथ ली थी
  • उससे पहले देवेंद्र फडणवीस ने कूटनीति का सहारा लेकर सीएम बने थे
  • लेकिन करीब 80 घंटे के बाद उन्हें इस्तीफा देना पड़ा
  • उद्धव ठाकरे को पहले गवर्नर ने 3 दिसंबर तक बहुमत साबित करने का समय दिया था,
  • हालांकि, मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद ठाकरे जल्द से जल्द बहुमत साबित करना चाहते हैं।
  • कहा जा रहा है कि इसके पीछे मुख्यमंत्री की मंशा जल्दी कैबिनेट विस्तार करने की है।
  • वहीं इस जल्दी को बीजेपी ने शिवसेना का डर बताया है।