उन्नाव रेप पीड़िता कि मौत : जिंदगी और मौत के बीच लड़ रहे उन्नाव रेप पीड़िता हार गई जिंदगी की जंग.

U. P. में हुए गैंगरेप के बाद पिता को जलाने की कोशिश की गई इस वारदात में उन्नाव पीड़िता बहुत ही नाजुक थी और उसने काफी घंटे तक जिंदगी और मौत के बीच लड़ती रही लेकिन आखिर शुक्रवार रात 11:40 पर उन्नाव रेप पीड़िता कि मौत    हो गयी

उन्नाव रेप पीड़िता कि मौत : जिंदगी और मौत के बीच लड़ रहे उन्नाव रेप पीड़िता हार गई जिंदगी की जंग :-

उन्नाव के बिहार थाना क्षेत्र के खेड़ा की दुष्कर्म पीड़िता ने शुक्रवार को दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में जिंदगी का साथ छोड़ दिया। डॉक्टरों ने बताया कि लगभग रात 11:10 पर पीड़िता को दिल का दौरा पड़ा और 11:40 पर उन्नाव रेप पीड़िता कि मौत    हो गयी  गुरुवार को एयर एंबुलेंस के द्वारा लखनऊ से दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में बर्न यूनिट में दुष्कर्म पीड़िता को भर्ती कराया गया था। और डॉक्टरों की एक स्पेशल टीम उसका इलाज कर रही थी। डॉक्टरों ने बताया कि शरीर 95% जल चुका था। ऐसे में उसका बच पाना बहुत मुश्किल था।

हैदराबाद जैसी मौत की सजा मिली आरोपियों को :-

  • पीड़िता के भाई और मां भी दिल्ली के शंकरगंज अस्पताल पहुंचे थे।
  • उसने अपने भाई से कहा कि वह जीना चाहती है।
  • पीड़िता ने भाई से कहा कि आरोपियों को मौत की सजा मिलनी चाहिए।
  • उन्नाव से पीड़िता की मां भी दिल्ली आई थी
  • लेकिन काफी परेशानी होने से उनको घर भेज दिया गया था।
  • शनिवार की सुबह परिजनों की मौजूदगी में बॉडी का पोस्टमार्टम किया जाएगा।

read also ; राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद; आज करेंगे जोधपुर हाईकोर्ट का उद्घाटन

दिल का दौरा पड़ने से हुई मौत :-

  • पीड़िता का 95% शरीर जल चुका था ऐसे में उसे बचाना काफी मुश्किल था
  • दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में बर्न यूनिट और प्लास्टिक सर्जरी यूनिट के डॉक्टरों ने मिलकर उसका इलाज की
  • और बचाने की पूरी कोशिश की बर्न और प्लास्टिक सर्जरी विभाग के डॉक्टर सुलभ कुमार ने कहा कि; पीड़िता रात में लगभग 9:00 बजे तक बात कर पा रही थी
  •  पीड़िता को सांस लेने में काफी समस्या हो रही थी
  •   अपनी जिंदगी की दुआ मांग रही थी लगभग 11:00 बजे पीड़िता को दिल का दौरा पड़ा ; 11:30 तक पीड़िता ने आखिरी सांस ली !

सपाइयों ने पीड़िता को ₹1 लाख का की मदद दी है और सरकार से लगभग 25 लाख रुपए का मुआवजा देने की बात कही है।